Chairman Message

                                                                                                                      दिनांक 22/06/2017

प्रिय साथियों,

 

सभी  पदोन्नत साथियों को मेरी तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं । पदोन्नति सदैव नए उत्तरदायित्वों को आमंत्रित करती है इसलिये मेरा सुझाव है कि वे अपने नए उत्तरदायित्वों को दोगुने जोश के साथ प्रारम्भ करें और बैंक को सभी आयामों में उच्च शिखर पर स्थापित करने का प्रयास करें।

 

 

जो साथी पदोन्नति प्राप्त नहीं कर पायें उनसे मेरा विशेष तौर पर आह्वान है कि वे हतोत्साहित न हों क्योंकि पदोन्नति हमारे कैरियर का निरन्तर क्रम है और ऐसे अवसर हमें समय समय पर मिलते रहेगें । उनसे मेरा आग्रह है कि वे पूरे उत्साह के साथ बैंक के लक्ष्यों की प्राप्ति की दिशा में संलग्न रहें । बैंक को दिया आप सभी का योगदान सराहनीय है और मैं निरन्तर आपसे पूर्ण निष्ठा, मेहनत, श्रेष्ठ ग्राहक सेवा, कर्तव्य के प्रति समपर्ण भाव, जुझारूपन, और संस्थागत भावनाओं की अपेक्षा रखता हू ।

 

साथियों, “Sustainable Quality Credit Growth & Reduction of NPAs” के मूलमंत्र के साथ हमने वित्तीय वर्ष 2017-18 को प्रारम्भ किया था । एन.पी.ए. घटाने की दिशा में आपके अथक प्रयास सराहनीय है, लेकिन अपेक्षाओं और लक्ष्यों से हम बहुत पीछे हैं । साथियों, गत 8 मई के अपने संदेश में मैने चिन्ता जताई थी कि इस वित्तीय वर्ष में शेष बचे अपने सभी क्षेत्रों में हमें सिस्टम प्रतिपादित रिपोर्ट के आधार पर ऋण खातों को एन.पी.ए. में वर्गीकृत करना है जिससे एन.पी.ए. में अप्रत्याशित वृद्धि होने की सम्भावना है । अतएव आवश्यकता इस बात की है कि हम एन.पी.ए. वसूली के लिये Harvesting Season के शेष बचे दिनों में जी तोड. मेहनत करें । सभी क्षेत्रों में स्थापित टास्क फोर्स टीमें अपने आपको पूरी तरह से वसूली में व्यस्त रखें । शाखा प्रबन्धक एक मुश्त समझौता में दी गई शक्तियों का पूरा उपयोग करें और साथ ही एस.ए.एम.डी विभाग के नये परिपत्र संख्या 19/2017 दिनांक 12/06/2017 के अनुसार जिसमें कृषि क्षेत्र के किसी भी अनियमित या एन.पी.ए. खातें को बन्द करके पुनः ऋण देने की सुविधा प्रदान की गई है का भरपूर लाभ जरूरतमंद किसानों को दें । किसानों के हित में बैंक द्वारा बनाई गई सभी योजनाओं का लाभ उन तक पहुंचाना सुनिश्चित करें ।

 

साथियों, मुख्य मानदण्डों में जून-2017 के लक्ष्यों से हम पीछे चल रहे हैं जो हमारे लिये विवेचन का विषय है । हमारा निरन्तर प्रयास रहेगा कि हम अपने आबंटित लक्ष्यों की प्राप्ति के लिये प्रतिबद्ध रहें ।

 

बढ.ते एन.पी.ए. की स्थिति के साथ हमारी लाभ प्रदत्ता भी दबाव में है जिसे पिछले वर्ष के स्तर पर बनाएं रखने के लिये हमे अधिक से अधिक ऋण वितरित करने होंगें । अतः मुझे विश्वास है कि आप सभी मानदण्डों पर ध्यान केन्द्रित करते हुए और विशेष रूप से इन दोनों दिशाओं में तेजी से बढ.ते हुए वर्ष 2017-18 के शानदार परिणाम दर्ज कर मूलमंत्र को चरितार्थ करते हुए कामयाबी का इतिहास रचेगें ।

 

पुनः हार्दिक शुभकामनाओं सहित

 

                                                                                                                                                                आपका,

 

                                                                                                                                                (डा. मानवेन्द्र प्रताप सिहॅ)

Copyright@2013. All rights Reserved.