Chairman Message

मेरी SHGB टीम के प्रिय साथियो, 

 

सर्व प्रथम मैं अपने सभी ‘कोरोना योद्धाओं’ का अभिनन्दन करता हूँ जो इस कोरोना काल में भी श्रेष्ठ ग्राहक सेवा की अपनी प्रतिबद्धता के साथ, ‘सोशल डिस्टेंसिंग’ एवं स्वच्छता नियमों की अनुपालना सहित आवश्यक सावधानियाँ रखते हुए अपने उत्तरदायित्वों के निर्वहन में पूरे मनोयोग से जुटे हुए हैं।     

 

 

 

आपने इस विपरीत काल में जिस साहस का परिचय दिया है वह हमारी भारतीय परम्परा के अनुरूप है जिस पर हमारी टीम खरी उतरी है। लॉक डाउन की स्थिति में प्रधानमऩ्त्री गरीब कल्याण योजना, पेंशन वितरण एवं फसल बिक्री की राशि के भुगतान में आपने जो कर्मठता, कर्त्तव्यपरायणता  इन दिनों दिखाई वह गीता के कर्मयोग के सि़द्धान्त को प्रतिपादित करती है जो हम सभी के व्यक्तित्व में रचा-बसा हुआ है।  

साथियो, हम बैंकर्स की परफॉरमेंस  का आकलन तो हमारे आंकड़ों के माध्यम से होता है। व्यवसाय की स्थिति की समीक्षा करें तो दिनांक 30.06.2020 को समाप्त तिमाही में हमारा कुल व्यवसाय रू. 26691.51 करोड़ है जिसमें रू.17015.84 करोड़ की जमा राशियों के साथ हम सुदृढ़ स्थिति में हैं । परन्तु रू. 9675.67 करोड़ की ऋण राशियों के साथ ऋण जमा अनुपात के राष्ट्रीय गोल 60 प्रतिशत से भी नीचे आ गये हैं जिसमें सुधार अति आवश्यक है। एक जून से कोविड-19 अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। अतः अब हमें गुणवत्तापरक ऋण प्रस्तावों के लिये अधिक प्रयास करते हुए ऋण विविधता के साथ ऋण वितरण पर अधिक ध्यान केन्द्रित करना होगा।

संस्था के स्वस्थ, सुदृढ़ अस्तित्व में एनपीए एक बीमारी के समान है। मुझे आपसे यह सांझा करते हुए अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है कि हमारी टीम ने विपरीत परिस्थितियों के बावजूद अपने वसूली प्रयासों को सरकार द्वारा तय नियमों की अनुपालना के साथ नियमानुसार जारी रखा। परिणामस्वरूप इस तिमाही में रू. 66.35 करोड़ की वसूली एनपीए राशियो में हुई, जिसके लिये आप सब बधाई के पात्र हैं। इस समय हमारा एनपीए रू. 1514.71 करोड़ है तथा नेट एनपीए प्रतिशतता 4.96 है जो सन्तोषजनक तो है परन्तु अभी हमें इस दिशा में कमर-कसते हुए अपने गत वर्ष के प्रयासों को और अधिक त्वरित गति से आगे बढ़ाना है। मैं यह आशा करता हूँ कि 31.03.2021 तक हम एनपीए को न्यूनतम स्तर तक लेकर आने की प्रतिबद्धता के साथ कार्य करेंगे।

साथियो, सर्वश्रेष्ठ रणनीतिकार वही होता है जो अपनी कमियों को पहचान कर उनको दूर करने पर अधिक फोकस करते हुए उपलब्धियों को बनाये रखता है। इस दृष्टि से हमें गतिविधि विविधता के साथ गुणवत्तापरक ऋणों के आवंटन, एनपीए में वसूली और किसी भी तरह की रिवेन्यू लीकेज न होने देने के संकल्पों के साथ ऋण, एनपीए वसूली एवं लाभ लक्ष्यों को प्राप्त करना है। मानक ऋण खातों को अनियमित होने से रोकना है तथा जमा राशियों के स्तर को मेन्टेन करना है और यह सब श्रेष्ठ ग्राहक सेवा के बल पर कोरोना से बचाव की सावधानियों के साथ करना है।  

आज के डिजिटल युग में हमारे पास ‘सोशल डिस्टेंसिंग’ के अतिरिक्त ‘डेस्टिनेशन डिस्टेंसिंग’ की अनुपालना के साथ कार्यनिष्पादन के अनेक विकल्प उपलब्ध हैं। बैंक उन सभी माध्यमों का भरपूर उपयोग करते हुए अपने काम काज को निर्बाध गति से समय पर करने को प्राथमिकता दे रहा है। इसी क्रम में पदोन्नति प्रक्रिया समय पर शुरू की जा चुकी है। इच्छुक स्टाफ सदस्यों के एक दिन के अवकाश का नकदीकरण कर सहयोग राशि रू 49.25 लाख पीएम केयर फण्ड में भेज दी गयी है। आपसे अनुरोध है कि ग्राहकों को नकदी निर्भरता कम करने के तरीके बताते हुए डिजिटल लेन-देन की ओर अग्रसर करें।  

साथियो, साहस करने वालों के कदमों को बाधाएं नहीं रोक सकती। उच्च मनोबल और टीम भावना के साथ कार्य करते हुए हमें समय के साथ कदम मिलाकर अपने निर्धारित लक्ष्यों को न केवल पूरा करना है बल्कि अच्छे अन्तर से पार भी करना है। कोविड-19 के कारण दुनिया में बहुत कुछ बदल रहा है और मेरी पूरी टीम ने उस बदलाव को सहज ही आत्मसात करते हुए बेहतर परिणाम दिये हैं, यह हम सबके लिये गर्व की बात है। आपका जुझारूपन सदैव प्रशंसनीय रहा  है। हमें आगे भी कोरोना की चुनौतियों को स्वीकार करते हुए प्रगति की नवीन गाथा लिखनी है, आप लिखेंगे इसका मुझे पक्का विश्वास है।  

सफलता की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ। 

आपका शुभाकांक्षी,   

 

अरुण कुमार नन्दा 

दिनांक 02.07.2020  

‘कोरोना से बचाव के लिये पूरी सावधानी रखें।‘ 

SHGB Cares for You  

Copyright@2013. All rights Reserved.